बाबा ने फिर दिखाया गिरगिटी रंग, मोदी को भूल इस नेता की करने लगे तारीफ, दीपिका पर कटाक्ष भी

-कार्यालय प्रतिनिधि
योग गुरु से दवा उत्पादक और पतंजलि के लिए प्रचार व मॉडलिंग करने वाले भगवा वस्त्रधारी बाबा रामदेव ने एक बार फिर अपना रंग दिखाया है, जिसे गिरगिटी रंग या गिरगिट की तरह रंग बदलना भी कहा जा सकता है।

हालांकि, ऐसा कोई पहली बार नहीं है। याद होगा, मनमोहन सिंह सरकार के समय दिल्ली के रामलीला मैदान में भीड़ से घिर जाने पर वह जान बचाने के लिए बुर्का पहनकर भागे थे। संभवत: बुर्के की व्यवस्था करके ही वह आंदोलन स्थल पहुंचे थे।

ताजा खबर के अनुसार लोकपाल के लिए अन्ना हजारे के साथ आंदोलन करने वाले और पीएम नरेन्द्र मोदी को अपना मित्र बताने वाले तथा उनकी तारीफ में कसीदे कढ़ने वाले बाबा रामदेव ने अब मोदी को भूलकर नए नेता की तारीफ में पुल बांधे हैं, वह भी भाजपाई नहीं कांग्रेस नेता के।

यह नेता हैं, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ। गत दिनों मप्र की व्यवसायिक राजधानी इंदौर पहुंचे बाबा रामदेव ने ना केवल कमलनाथ की तारीफ की बल्कि उनसे अपने प्रगाढ़ रिश्ते भी बता दिए। मीडिया से बात करते हुए बाबा रामदेव ने सीएम कमलनाथ की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि, ‘मेरा जितना प्रेम शिवराज सिंह जी से है, उतना ही प्रेम मेरा कमलनाथ जी से भी है। मेरी उनसे खूब बातचीत होती है। कमलनाथ जी बहुत ही दूरदर्शी व्यक्ति हैं। उनको समझ है कि कैसे सरकार चलाई जाती है।’

लेकिन जब बाबा से उनके एक पिछले टीवी इंटरव्यू के बारे में सवाल किया गया तो वह अनसुना कर आगे बढ़ गए। दरअसल, दो साल पहले जब मप्र में भी भाजपा सरकार थी, तब बाबा रामदेव ने कमलनाथ को सरेआम गलत साबित करने की कोशिश की थी।

फरवरी 2018 में सीएनएन न्यूज18 के क कार्यक्रम ‘मैटर्स ऑफ द स्टेट’ के दौरान जब कमलनाथ ने भाजपा पर हमला किया तो कार्यक्रम में मौजूद बाबा रामदेव ने उनसे सीधा सवाल किया था- “मैं एक गरीब किसान के घर में पैदा हुआ हूं, मैंने किसानी की है। आपने कभी हल चलाया है? आपको पता है कि ये यूरिया और फर्टिलाइजर कब डाला जाता है? कैसे उसमें गोबर डाला जाता है या कैमिकल कैसे डाले जाते हैं?’

इसके वाबजूद अब कमलनाथ के सीएम बनने के बाद बाबा उनसे अपने रिश्ते प्रगाढ़ होना बता रहे हैं। उनकी तारीफ भी कर रहे हैं। इसे ही गिरगिट की तरह रंग बदलना कहा गया है।

सवाल पैदा होता है, कि आखिर ऐसी क्या मजबूरी हुई जो बाबा को अपना रंग बदलना पड़ा? पता चला है कि, बाबा की कंपनी पतंजलि ने देश की जानी मानी कंपनी रुचि सोया को 4350 करोड़ में खरीद लिया है। इस कंपनी का पूरा कारोबार इंदौर से संचालित होता है, अब इंदौर में व्यापार करना है तो सफेद झूठ ही सही, प्रशासन और सरकारी मशीनरी पर यह प्रभाव डालना फायदा ही देगा कि, सूबे के मुखिया उनके दोस्त हैं।

जानकारी के अनुसार बाबा के साथी आचार्य बालकृष्ण रुचि सोया बोर्ड की ‘कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी कमेटी’ के चेयरमैन होंगे, जबकि बाबा रामदेव स्वयं इसके सदस्य ही रहेंगे।

नोट : शुल्क जमा करना जरूरी नहीं.

आवेदन करें : ब्यूरो चीफ बनें

दीपिका पर किया कटाक्ष:
इस मौके पर बाबा रामदेव ने बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण को लेकर कटाक्ष भी किया। छपाक फिल्म से सुर्खियां बटोर रहीं फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के जेएनयू में जाने को लेकर बाबा ने कहा कि, ‘दीपिका पादुकोण में अभिनय कुशलता होना अलग बात है, लेकिन उनको अभी सामाजिक, राजनैतिक और सांस्कृतिक समझ को बढ़ाने के लिए और ज्यादा पढ़ना पड़ेगा, देश को समझना पड़ेगा और उसके बाद उनको इतने बढ़े निर्णय लेने चाहिए। उन्होंने कहा कि, ‘मुझे लगता है इसके लिए दीपिका पादुकोण को बाबा रामदेव जैसे सलाहकार को रखना पड़ेगा, जो ऐसे मुद्दों पर कम से कम उनको सही सलाह तो दे सके।’

 

देश – दुनियां की ऐसी ही चटपटी, सनसनीखेज, बिंदास, सच्ची और विचारोत्तेजक खबरों / वीडियो से हमेशा अपडेट रहने के लिए कृपया यहां दिख रहा Allow या Follow का बटन दवाऐं अथवा लाल घंटी बजाऐं. जब चाहें दोबारा ऐसा कर आप अनअपडेट भी हो सकते हैं.

loading...
News Reporter
इस वेबसाइट व यू ट्यूब चैनल के लगभग सभी खबरें तथा वीडियो आदि Dailyhunt, Google News, NewsDog, NewsPoint एवं UC News पर भी उपलब्ध हैं इसमें ज्यादातर चित्र सांकेतिक रहते हैं तथा इंटरनेट व सोशल मीडिया से उपयोग किए जाते हैं, इसलिए हम किसी कॉपीराइट का दावा नहीं करते. सम्पर्क: Mobile / WhatsApp : 91-9993069079 E-Mail : rapaznewsco@gmail.com
loading...
loading...
Join Group