फेसबुक के दोस्त ने लूटी छात्रा की अस्मत, फोटो खींचकर परिजनों से मांगी रकम

हमारे देश में सोशल मीडिया का सदुपयोग कम, दुरुपयोग या फालतू उपयोग ही ज्यादा हो रहा है। बारहवीं में पढ़ने वाली एक छात्रा के साथ हुई यह वारदात भी यही साबित करती है।

छत्तीसगढ़ के भिलाई शहर में रहने वाली छात्रा और बीकॉम के छात्र की फेसबुक पर दोस्ती हुई। फिर एक दिन दोनों की मुलाकात हुई। एकांत मिलन भी हुआ यानि वह सबकुछ भी हो गया जो नहीं होना था, जिसे समाज में विवाह पूर्व और निश्चित आयु से पहले ठीक नहीं माना जाता। इसके बाद सामने आया, इसका दुष्परिणाम।

खबर है कि, फेसबुक फ्रेंड पर भरोसा कर छात्रा उसके साथ नेहरु नगर स्थित उसके दोस्त के कमरे में चली गई, वहां ले जाकर दोस्त हैवानियत पर उतर आया। उसने छात्रा की अस्मत लूट ली। इतना ही नहीं उसके अश्लील फोटो भी खींच लिए। इन फोटो की बिना पर उसके परिजनों को ब्लैकमेल करने की कोशिश भी करने लगा। तंग आकर पीडि़ता ने इसकी रिपोर्ट पुलिस में की।

सुपेला थाने के टीआई गोपाल वैश्य ने बताया कि 9 जून 2019 की घटना है। पीडि़ता ने शिकायत में बताया कि आरोपी से उसकी दोस्ती फेसबुक के माध्यम से हुई थी। एक दिन वह दोनों सेक्टर-6 स्थित पॉवर जिम में पंजा कुश्ती स्पर्धा के दौरान मिले।

आरोप है कि, बातचीत करने के बहाने आरोपी उसे होटल ले जाना चाहता था। लेकिन किशोरी ने उसे मना कर दिया। तब उसने नेहरू नगर में दोस्त के रूम पर चलने को कहा। कहा कि नाश्ता भी करेंगे और बातें भी। झांसे में आकर किशोरी उसके साथ चली गई। लेकिन कमरे में उसका कोई दोस्त नहीं था।

किशोरी ने पुलिस को बताया कि आरोपी ने कमरे में उसके साथ दरिंदगी की, मोबाइल से उसकी अश्लील फोटो भी बना लिया। यही नहीं किसी को घटना के बारे में बताने पर जान से मारने की धमकी भी दी। डर के मारे किशोरी अपना दर्द दबाए रखी। लेकिन उसने आरोपी से मोबाइल पर बातचीत करना बंद कर दिया।

चार नाबालिग माता-पिता को बंद कर, अपना ही घर लूट कर भागे, जानिए क्यों

पबजी दोस्तों से मिलने भोपाल से मुम्बई पहुंची युवती, हुई गैंगरेप की शिकार

उसे पुलिस अफसर समझ महिला जाती थी होटलों में, दोनो बनाते थे सम्बंध, लेकिन अब

अपहरण कर किया दुष्कर्म, वीडियो बनाकर कराया गंदा धंधा, पुलिस ने नहीं की सुनवाई

तब आरोपी विश्वरंजन प्रधान ने उसकी अश्लील फोटो अपने दोस्त विकास के मोबाइल पर भेज दिया। विकास ने उसे पीडि़ता के परिजनों को भेज दिया। इसके बाद विश्वरंजन और विकास ने उनसे पैसे की मांग करते हुए ब्लैकमेल करने की कोशिश की। तब घटना की पूरी जानकारी पीडि़ता ने अपने परिजनों को दी।

इसके बाद परिजनों के साथ थाना में शिकायत दर्ज कराई। शिकायत मिलने पर पुलिस ने आरोपी विश्वरंजन प्रधान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। उसका सहयोग करने वाला विकास फरार है जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

खबर है कि, इसके साथ ही पुलिस यह जांच भी कर रही है कि, यदि आरोपी ने जबरदस्ती की, उसके कृत्य में छात्रा की स्वीकृति नहीं थी तो छात्रा ने ऐसा कोई प्रमाण क्यों नहीं दिया। हालांकि, जांच के बाद यदि छात्रा नाबालिग साबित हुई तो ऐसे प्रमाण का शायद ही कोई औचित्य रहे।

 

देश – दुनियां की ऐसी ही चटपटी, सनसनीखेज, बिंदास, सच्ची और विचारोत्तेजक खबरों / वीडियो से हमेशा अपडेट रहने के लिए कृपया यहां दिख रहा Allow या Follow का बटन दवाऐं अथवा लाल घंटी बजाऐं. जब चाहें दोबारा ऐसा कर आप अनअपडेट भी हो सकते हैं.

loading...
News Reporter
इस वेबसाइट व यू ट्यूब चैनल के लगभग सभी खबरें तथा वीडियो आदि Dailyhunt, Google News, NewsDog, NewsPoint एवं UC News पर भी उपलब्ध हैं इसमें ज्यादातर चित्र सांकेतिक रहते हैं तथा इंटरनेट व सोशल मीडिया से उपयोग किए जाते हैं, इसलिए हम किसी कॉपीराइट का दावा नहीं करते. सम्पर्क: Mobile / WhatsApp : 91-9993069079 E-Mail : rapaznewsco@gmail.com
loading...
loading...
Join Group