पहले किया मतदान, बाद में हुई शादी

परिजनों और नाते-रिश्ते वालों के अनुसार होने वाले शादी-विवाह में मुहूर्त का बड़ा महत्व रहता है। लेकिन इससे ज्यादा महत्व मतदान का है, यह साबित किया देश में उन युवक-युवतियों ने जिनके विवाह का मुहूर्त ठीक उसी दिन पड़ा जिस दिन भारतीय लोकतंत्र का पर्व पड़ा, यानि मतदान के दिन रविवार 12 मई को। ग्वालियर में वर्षा झा ने भी मतदान के मुहूर्त को अपने विवाह के मुहूर्त से अधिक महत्व देते हुए अपनी सजगता का परिचय दिया। कुम्हरपुरा निवासी वर्षा झा ने शादी की रस्मों के बीच मतदान केन्द्र…

Read More