कत्ल के आरोपी को MP से ले गए मसूरी, मुम्बई से पहुंची लड़की, होटल मे हुई अय्यासी, 7 पुलिसकर्मी सस्पैंड, महिला पत्रकार भी संदिग्ध

मध्यप्रदेश की व्यवसायिक राजधानी कहे जाने वाले इंदौर में कुछ माह पहले हुए एक चर्चित हत्याकांड के मुख्य आरोपी शातिर बदमाश रोहित सेठी को देहरादून व मसूरी ले जाकर एक होटल में रुकवाने और अय्याशी के लिए मुम्बई से पहुंची उसकी गर्लफ्रेंड से मिलने की व्यवस्था कराने के आरोप में आर आई समेत सात पुलिस कर्मियों को ग्वालियर एसपी नवनीत भसीन द्वारा बुधवार को निलंबित किया गया है।

मालूम हो कि, इंदौर से टीवी न्यूज चैनल (एसआर न्यूज) के मालिक रोहित सेठी पर इंदौर के ही प्रतिष्ठित युवा व्यापारी संदीप तेल उर्फ संदीप अग्रवाल की दिनदहाड़े हत्या करवाने का आरोप है। सुरक्षा कारणों के चलते रोहित को गोपनीय रूप से ग्वालियर सेंट्रल जेल में रखा गया है।

जानकारी के अनुसार कोर्ट के आदेश पर रोहित सेठी को कड़ी सुरक्षा में देहरादून पेशी पर भेजा जाता है। इसके चलते कुछ माह पूर्व पुलिस लाइन में पदस्थ प्रधान आरक्षक त्रयंबक राव के नेतृत्व में आरक्षक जितेंद्र, अनिल, संजय व अमित को रोहित सेठी को देहरादून पेशी पर भेजा गया था। पुलिसकर्मियों ने रोहित सेठी को देहरादून में पेशी कर वापस सेंट्रल जेल को सौंप दिया।

कोर्ट के आदेश पर दूसरी बार 8 जुलाई को भी रोहित सेठी को पेशी पर ले जाने का दायित्व आरआई ने त्रयंबकराव को सौंपा था।

पेशी से लौटने के 20 दिन बाद इंदौर मीडिया में खुलासा हुआ कि रोहित सेठी अपनी मुंबई की गर्लफेंड के साथ मसूरी स्थित होटल चिमनी हाउस के कमरा नंबर 3 में रुका था। गर्लफ्रेंड की हीरे की अंगूठी होटल के बाथरूम में गुम होने पर इन लोगों ने हंगामा किया और होटल स्टाफ से मारपीट भी की थी। बताया जाता है कि, यह घटना होटल के सीसीटीवी में कैद हो गई थी। संदेहजनक गतिविधियों के चलते होटल स्टाफ ने देहरादून पुलिस को सूचना दी, वहां की पुलिस फर्जी पुलिस के संदेह में रोहित सेठी और उसकी गर्लफ्रेंड सहित सभी पुलिसवालों को पकड़कर थाने ले गई थी।

पूछताछ के बाद देहरादून पुलिस के एसआई महावीर सिंह ने रोहित सेठी को पेशी पर लेकर गए जवानों के पुलिस लाइन में पदस्थ होने की पुष्टि करने के लिए पूरे घटनाक्रम से आरआई देवेन्द्र सिंह को अवगत कराया था। लेकिन आरआई इस जानकारी को वरिष्ठ अधिकारियों को बताने की बजाए दबा गए।

इंदौर मीडियी में यह मामला सामने आने पर ग्वालियर एसपी नवनीत भसीन द्वारा डीएसपी (लाइन) से शीघ्र जांच कराई गई। जांच में और भी बातें सामने आईं। रोहित सेठी को पेशी पर ले जाने वाले जवानों की मोबाइल लोकेशन निकाली गई। इसके साथ ही आरआई के मोबाइल की सीडीआर भी निकाली गई। इसके बाद जवानों के बयान लिए गए।

 

  • जांच में हुए चौंकाने वाले खुलासे:
    प्रधान आरक्षक त्रयंबक राव के साथ लाइन में छह सिपाहियों की रवानगी पड़ी थी। लेकिन केवल पांच सिपाही ही रोहित सेठी को देहरादून लेकर गए थे। सात सदस्यीय टीम की पुलिस लाइन में रवानगी व आमद हुई , लेकिन एक सिपाही देहरादून तक गया ही नहीं।
  •  मोबाइल लोकेशन से खुलासा हुआ कि पेशी पर रोहित सेठी को ट्रेन से ले जाने की बजाए प्राइवेट गाड़ी से लेकर गए थे। यह लोग ऋषिकेश में भी रुके थे।
  •  देहरादून पेशी करने के बाद यह लोग मसूरी पहुंचे। होटल चिमनी हाउस में इन लोगों ने शातिर बदमाश का पुलिस का बड़ा अधिकारी बताया। होटल के स्टाफ ने इसलिए भरोसा कर लिया कि रोहत के साथ जवान वर्दी में थे। और इनके पास सरकारी हथियार भी थे। इसी होटल में पहले भी रुक चुके थे।
  •  रक्षित निरीक्षक देवेंद्र सिंह पर आरोप है कि उन्होंने जानबूझकर घटना की भनक वरिष्ठ अधिकारियों को न लगने दी।
  •  आरआई पर यह भी आरोप है कि, इस जानकारी के बावजूद दूसरी बार भी हवलदार त्रयंबक राव को ही क्यों रोहित सेठी को ले जाने की जिम्मेदारी दी।

खबरों के मुताबिक ग्वालियर में गश्त के ताजिया पर त्रयंबक राव के साथ गस्त कर सिपाही की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसमें त्रयंबक राव की जांच हुई थी।

महिला पत्रकार की भूमिका भी संदिग्ध:
सूत्रों की मानें तो रोहित सेठी के एसआर न्यूज चैनल में कार्यरत रही एक महिला पत्रकार ने जून व जुलाई में दो बार ग्वालियर आकर जेल में रोहित से मिलने की कोशिश की थी और उसी ने आर आई यादव व हवलदार त्रयंबक राव से रोहित सेठी को देहरादून तक ट्रेन के बजाय निजी कार से ले जाने तथा मसूरी में गर्लफ्रेंड से मिलवाने की सेटिंग की थी।

इंदौर पुलिस ने भी शुरू की जांच: 
इसी बीच खबर मिली है कि, इंदौर की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रुचि मिश्रा ने दो टीमें जांच के लिए देहरादून व मसूरी भेजी हैं। ये टीमें यह भी जांच करेंगीं कि, पेशी देहरादून में थी तो रोहित सेठी को मसूरी कैसे ऐर किसके आदेश पर ले जाया गया।

इस बीच कुछ ऐसे फोटो भी सामने आए हैम जिनमें मुम्बई से पहुंची रोहित की गर्लफ्रेंड व पुलिसकर्मी मसूरी के चिमनी होटल में दिखाई दे रहे हैं।

खबर है कि, ग्वालियर पुलिस द्वारा आरआई सहित सातों निलंबित पुलिसकर्मियों की जांच जारी है, यदि जांच में दोषी पाए गए तो कार्रवाई तय मानी जा रही है।


सम्पर्क /

reporter.rapaznews.com

[] आपको यह खबर कैसी लगी, कृपया नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय बताऐं.  []  देश दुनियां की ऐसी ही खबरों से हमेशा अपडेट रहने के लिए कृपया यहां दिख रहा Allow या Follow का बटन दवाऐं अथवा लाल घंटी बजाऐं. धन्यवाद. 

loading...
News Reporter
इस वेबसाइट के लगभग सभी आलेख व खबरें Dailyhunt, Google News, NewsDog, NewsPoint एवं UC News पर भी उपलब्ध हैं. ज्यादातर चित्र सांकेतिक रहते हैं तथा इंटरनेट के उपयोग किए जाते हैं, इसलिए किसी कॉपीराइट का दावा नहीं है. सम्पर्क: Mob : 91-9993069079 WhatsApp : 91-7974827087 E-Mail : rapaznewsco@gmail.com
loading...
loading...
Join Group