आसपास मौजूद थे कई मजदूर, दिनदहाड़े मॉ – बेटे को मारकर हत्यारे फरार

एक मकान के आसपास कई मजदूर काम पर थे, उसी दौरान मकान के भीतर कुछ लोग घुसे और मकान में मौजूद 45 वर्षीय महिला राधा तिवारी और उसके 22 साल के बेटे की हत्या कर फरार हो गए। इस दोहरे गुरुवार को दिनदहाड़े हुए इस दोहरे हत्याकांड का पता तब चला, जब परिवार के मुखिया बृजमोहन तिवारी करीब साढ़े चार बजे घर पहुंचे। यह सनसनीखेज हत्याकांड मप्र के दतिया जिले के सेंवढ़ा में हुआ।

जानकारी के अनुसार तिवारी के घर के पास कुछ मजदूर काम कर रहे थे। वे मजदूर बहुत देर से पानी पीने के लिए तिवारी के घर पर आवाज लगा रहे थे, लेकिन कोई जवाब नहीं मिल रहा था। इस कारण वे शंका में पड़े थे, तभी माध्यमिक विद्यालय क्रमांक 2 में पदस्थ बृजमोहन तिवारी अपने घर वापस पहुंचे।

तब मजदूरों ने उनको बताया कि, बहुत देर से आवाज लगा रहे हैं पर घर पर से कोई आवाज नहीं आ रही है, ना ही कोई बाहर निकला है। यह सुनकर जब तिवारी ने घर के अंदर जाकर देखा तो दिल को धक्का लगा, भीतर उनकी पत्नी और पुत्र लहुलुहान पड़े थे।

घटना की जानकारी लगने ही पुलिस मौके पर पहुँची। उस समय शैलेंद्र की सांसें चलती पाईं तो, दोनों को डायल 100 से उसे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन रास्ते में ही उसने भी दम तोड़ दिया। बाद में अस्पताल के डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया गया।

पता चला है कि, पुलिस की जांच में फिलहाल यह आ सका है कि घटना दोपहर करीब दो ढाई बजे की है। दोनों की हत्या पत्थरों से सिर कुचलकर और धारदार हथियार से की गई। यह आशंका व्यक्त की जा रही है कि, हत्यारे परिवार के परिचित या निकटस्थ हो सकते हैं, तभी तो उनके आने जाने का किसी को पता न लगा और न ही उन्होंने मृतकों की आवाज बाहर जाने दी।

लेकिन तिवारी ने किसी पर भी शक जाहिर नहीं किया, न ही किसी से दुश्मनी बताई। घर से किसी तरह की लूटपाट की भी जानकारी नहीं है। ऐसे में समझा जाता है कि, यह किसी सम्पत्ति के झगड़े का परिणाम हो। हालांकि, पुलिस दूसरे बिंदुओं पर भी विचार कर रही है। पता चला है कि, करीब छ: साल पहले तिवारी को भी किसी ने गोली मारी थी। तब भी उन्होंने किसी से दुश्मनी नहीं बताई थी।

इस दोहरे हत्याकांड को लेकर शुक्रवार को सेवढ़ा सभी में अशासकीय स्कूल, कोचिंग संस्थान व बाजार बंद रहे। हत्यारों की गिरफ्तारी को लेकर एसडीओपी को सौंपा ज्ञापन सौंपा गया। लेकिन हत्यारों का अब तक सुराग ही नहीं लग सका।

देश दुनियां की खबरों से हमेशा अपडेट रहने के लिए फ्री सेवा का उपयोग करें. कृपया Allow या Follow का बटन दवाऐं अथवा लाल घंटी बजाऐं. क्योंकि, वाट्सएप से सभी नम्बरों पर सूचना नहीं पहुंच रही. धन्यवाद

News Reporter

1 thought on “आसपास मौजूद थे कई मजदूर, दिनदहाड़े मॉ – बेटे को मारकर हत्यारे फरार

  1. loading...
  2. अब डर कैसा,बताना चाहिए संदिग्धों के बारे में तिवारी को

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
loading...
Join Group