बम विस्फोट से उड़ा दिया 10 मंजिला आलीशान होटल

यह खबर महाकाल की नगरी कहे जाने वाले मध्यप्रदेश के उज्जैन शहर की है, जहां बुधवार को एक बहुमंजिला होटल बम से विस्फोट कर उड़ा दिया गया. विस्फोट होते ही होटल की बहुमंजिला इमारत चंद मिनटों में रेत के महल की तरह भरभराकर गिर पड़ी.

लेकिन, यह कोई अपराधिक घटना नहीं है बल्कि, अवैध जमीन पर बने एक होटल को हाई कोर्ट के आदेश पर गिराया गया है, यानि एक अपराध को मिटाया गया है.

मालूम हो कि शांति पैलेस को उज्जैन के सबसे बड़े और आलीशान होटलों में से एक समझा जाता था. इसका निर्माण अवैध जमीन पर किए जाने की शिकायत पर सुनवाई के बाद अदालत ने यह आदेश दिया था. अदालती आदेश के अनुपालन में ही पुलिस-प्रशासन ने यह कार्रवाई की.

इंदौर के ब्लास्ट एक्सपर्ट शरद सरवटे ने होटल शांति पैलेस और क्लार्क्स-इन के पिलरों में पहले विस्फोटक लगाए, फिर विस्फोट किया गया. विस्फोट के बाद चमचमाता भवन चंद मिनटों में धराशायी हो गया. जानकारी के अनुसार इस होटल को कॉलोनी के आवासीय प्लॉट पर अवैध रूप से
करोड़ों की लागत से बनाया गया था, जिसमें सौ कमरे थे.

आरोपों के अनुसार नगर निगम के तत्कालीन अधिकारियों और सत्ताधारी दल के नेताओं की मिलीभगत से इस होटल का निर्माण कराया गया था.

अवैध जमीन पर निर्माण का मामला कोर्ट जाने के बाद भी एक मंजिल का निर्माण कराया गया था. यही नहीं लेकिन लंबी कानूनी प्रक्रिया के बीच हाई कोर्ट के स्टे के बावजूद होटल मालिक ने पुरानी इमारत के बाद एक और बहुमंजिला इमारत तान दी थी.

लेकिन बच न सका, करीब 10 साल की कानूनी प्रक्रिया के बाद हाई कोर्ट की डबल बेंच ने इन दोनों इमारतों को तोड़ने का आदेश जारी कर दिया. इसके बावजूद उज्जैन नगर निगम ने कार्रवाई में देरी की.

माना जा रहा है कि यह लेटलतीफी होटल मालिक को फायदा पहुंचाने के लिए की गई थी. जिससे वह हाई कोर्ट के आदेश को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे सके. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने भी हाई कोर्ट के आदेश को यथावत रखा.

दोस्तों, यह आर्टीकल आपको कैसा लगा, कृपया यहां कमेंट करके जरूर बताऐं ताकि, हम आपके अनुरूप सुधार कर सकें. [] ताजा खबरों से अपडेट रहने के लिए कृपया Allow या Follow का बटन जरूर दवाऐं अथवा लाल घंटी बजाऐं. [] सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों को शेयर भी करें.

News Reporter

2 thoughts on “बम विस्फोट से उड़ा दिया 10 मंजिला आलीशान होटल

  1. loading...

Comments are closed.

loading...
loading...
Join Group