अब घोषणा नहीं, काम करने वाली सरकार : कमलनाथ
  • झाबुआ में “स्कूल चलें हम” अभियान का शुभारंभ
  • सामूहिक विवाह समारोह में नव-दम्पत्तियों को दिया आशीर्वाद

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने कहा है कि प्रदेश में अब घोषणा करने वाली नहीं, काम करने वाली सरकार है। यह सरकार पहले दिन से हर वर्ग के लिए काम कर रही है। मुख्यमंत्री ने आज आदिवासी बहुल झाबुआ जिले में ‘स्कूल चलें हम’ अभियान का शुभारंभ किया और 700 जोड़ों के सामूहिक विवाह समारोह में नव-दम्पत्तियों को आशीर्वाद दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हम अपने वायदों को पूरा करने तेजी से काम कर रहे हैं। यह पहली सरकार है जिसने पहले दिन से जनता से किए गए वायदों पर काम करना शुरू किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश के अन्नदाता किसानों का 2 लाख तक का कर्ज माफ कर हमने प्रदेश के इतिहास की सबसे बड़ी योजना को ऐसी स्थिति में पूरा किया, जब पूर्ववर्ती सरकार पूरा खजाना खाली छोड़कर गई थी।

कमलनाथ ने कहा कि किसानों की कर्ज माफी मात्र राहत है। हमारा लक्ष्य तो किसानों के जीवन में खुशहाली लाना है। श्री नाथ ने कहा कि नौजवानों को रोजगार देना भी उनकी प्राथमिकता में शामिल है। युवा स्वाभिमान योजना के जरिए शहरी युवाओं को 100 दिन का रोजगार दिया जा रहा है। रोजगार की संभावना वाले निवेश को प्रोत्साहित करने की कोशिश हमारी जारी है और कई क्षेत्रों में हम सफल हुए हैं। जो उद्योग स्थानीय स्तर पर 70 प्रतिशत लोगों को रोजगार उपलब्ध करवाएंगे, हम उन्हें ही सुविधाएँ उपलब्ध करवाएंगे।

जय किसान फसल ऋण माफी योजना के दूसरे चरण की शुरूआत

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने झाबुआ में जय किसान फसल ऋण माफी योजना के दूसरे चरण का शुभारंभ किया। उन्होंने किसानों को फसल ऋण माफी के प्रमाण-पत्र वितरित किए। दूसरे चरण में 6,930 किसानों के 49.87 करोड़ के फसल ऋण माफ होंगे। पहले चरण में 46,419 किसानों के 212.50 करोड़ के ऋण माफ किए गए है।

हर बच्चा स्कूल जाए

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि शिक्षा के माध्यम से पिछड़ेपन को दूर करने के लिए हम सभी का यह दायित्व है कि हर बच्चा स्कूल जाए। उन्होंने कहा कि हमें प्रदेश को शिक्षित राज्य बनाना है। शिक्षा ही हर व्यक्ति के जीवन में उन्नति लाती है। उन्होंने कहा कि शैक्षिक वातावरण बनाने के लिए राज्य सरकार ने सारे इंतजाम किए हैं। जरूरत इस बात की है कि शिक्षक और समाज के जागरूक लोग और जन-प्रतिनिधि हर बच्चे को स्कूल तक पहुँचाएँ और उनके अभिभावकों को प्रेरित करें कि उनका बच्चा स्कूल जाए।

बच्चों को साइकिल वितरित

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने अभियान का शुभारंभ करते हुए स्कूली बच्चों को 3,125 साइकिलें वितरित की। उन्होंने सर्व शिक्षा अभियान के प्रचार रथ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। मुख्यमंत्री ने पौधा-रोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। श्री नाथ ने स्कूली बच्चों को पुस्तकों का वितरण किया तथा खेल और शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले विद्यार्थियों को मेडल प्रदान कर सम्मानित किया।

700 नव-दम्पत्तियों को आशीर्वाद

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ झाबुआ में आज मुख्यमंत्री कन्या विवाह एवं निकाह योजना में हुए 700 जोड़ों के सामूहिक विवाह कार्यक्रम में शामिल हुए। श्री नाथ ने सभी नव दम्पत्तियों को आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा कि सरकार ने इस योजना के जरिए गरीब वर्गों को दी जाने वाली सहायता राशि को दोगुना कर दिया है। उन्होंने बताया कि अब प्रत्येक नव-दम्पत्ति को 51 हजार रुपये सहयोग राशि दी जा रही है। उन्होंने नव-दम्पत्तियों को फलदार पौधे भेंट कर पर्यावरण संरक्षण का संकल्प दिलवाया।

140 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमि-पूजन

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने झाबुआ प्रवास के दौरान 140 करोड़ 15 लाख 47 हजार लागत के निर्माण कार्यों का लोकार्पण और भूमि-पूजन किया। इनमें बी.टी. रोड, गौ-शाला निर्माण, नदी पुनर्जीवन, निस्तार तालाब, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क, सी.सी. रोड, बैराज निर्माण, नल-जल योजना तथा महाविद्यालय भवन का लोकार्पण शामिल है। मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को हितलाभ वितरित किए। इस मौके पर पर्यटन मंत्री श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल, उच्च शिक्षा मंत्री श्री जीतू पटवारी और पूर्व सांसद श्री कांतिलाल भूरिया उपस्थित थे।(जस)

मनोज पाठक

News Reporter

1 thought on “अब घोषणा नहीं, काम करने वाली सरकार : कमलनाथ

  1. loading...

Comments are closed.

loading...
loading...
Join Group