बदल रहा है चम्बल में नारी स्वरुप

चम्बल का नाम सामने आते ही ,अंचल या आसपास के क्षेत्रों में ही नहीं देश -विदेश में रोंगटे खड़े हो जाते है। जहाँ में नदी किनारे ऊँचे – गहरे पहाड़ों ,घने पेड़ों से भरे घने जंगल की भयानक तस्बीर उभरती है। जिसमे दिखने बाले लोगो की हाथों में आग उबलती ,दुसरो की जान लेती बन्दूके गिख्ती है। इन लोगो के चेहरे जंगल में उनके आसपास विचरण कर रहे जंगल के जानवरों से भी खूंखार नजर आते हैं।

सांकेतिक चित्र

चम्बल के जंगल में दिखने वाले इन खूंखार चेहरों में केवल मर्द ही नहीं वल्कि औरतें भी होती है। चेहरा कैसा भी रहा हो ,कृत्य तो आपराधिक रहे है। इसके बाबजूद समाज ने इनको “दस्यु सुन्दरी” कहा ,पुतली बाई से लेकर फूलन देवी तक ऐसी कई बन्दुकधारी ,हत्यारोपी सुन्दरियों के नमी आपने सुने ही होंगे। साक्षात नहीं ,फिल्मो में तो देखे भी होंगे।

आयुक्त चम्बल

लेकिन अब यह सब अतीत का हिस्सा ही है। चम्बल की तस्बीर के रंग भी अब बदल रहे है। चेहरा व रंग रूप की बात से परे कर्म से सुन्दर नारियों के चेहरे चम्बल में नजर आने लग्र है। अब खेल, शिक्षा , राजनीती ,अभिनय या प्रशासन ही कोई कार्य क्षेत्र ऐसा है जिसमे चम्बल क्षेत्र में नारियों का योगदान न हो।

राजनीती के क्षेत्र में भिंड की जनपद अध्यक्ष रही संजू जाटव पिछले कई महीनो से सुर्खियों में रही है। इसी जिले के एक गांव की अंशिका भदौरिया कई TV सीरियल में अपने अभिनय के जलबे बिखेर रही है। बाईट विधानसभा चुनाव के दौरान चर्चा में रही आईएएस भी इसी जिले से है।

कलैक्टर मुरैना

अब प्रशासनिक स्टर पर अंचल की एक अलग ही तस्वीर सामने आयी है। वह भी चम्बलांचल के सबसे खुखार जिले मुरैना से। जिस जिले में कई पुरुष प्रशानिक व्यवस्था में असफल होते रहे वहॉं की कमान राज्य सरकार ने महिला आईएएस प्रियंका दास को सौप दी। प्रियंका दास जब मुरैना की कलेक्टर बनी, तब माना जा रहा था कि वह वैकल्पिक रूप यहाँ भेजी गयी है। जल्दी ही उनको हटाकर किसी पुरुष को ही यहाँ की कलेक्टरी देनी पड़ेगी लेकिन आश्चर्यजनक रूप से परिणाम सामने आया, लोकसभा चुनाव में भी जिले में अशांति न हो सकी जबकि इस अंचल में हर तरह के चुनाव में खून खराबे की आशंका हमेशा रहती है।

प्रियका दास की इस उपलब्धि से उत्साहित राज्य सरकार ने अब इस चम्बल संभाग की कमान भी अब एक महिला अदिकारी को सौपते हुए उन्हें भी गत दिवस मुरैना भेजा है। मालूम हो की चम्बल संभागीय मुख्यालय मुरैना में ही है।

अब तक शासकीय मुद्रक एवं लेकिन सामग्री मध्यप्रदेश के नियंत्रक का दायित्व संभाल रही श्रीमति रेनू तिवारी ने बुधवार को मुरैना पहुंचकर चम्बल संभाग आयुक्त का पदभार ग्रहण कर लिया है। बता दें की चम्बल में संभागीय उपायुक्त के पद पर सुश्री सुमनलता माहोर पहले से ही पदस्थ है।

कार्यभार ग्रहण करने के बाद श्रीमती तिवारी ने जिला व संभाग के अन्य अफसरों से मुलाकात की। इस अवसर पर आयुक्त चम्बल संभाग श्रीमती रेनू तिवारी जिले की पेयजल, स्वास्थ्य एवं कृषि तथा शिक्षा के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होनें ग्रीष्मऋतु को ध्यान में रखते हुये पेयजल की समस्या न हो। इसके लिये स्थाई हल करने के निर्देश कलेक्टर को दिये। उन्होनें कहा कि छोटे-छोटे कृषकों को खाद्य बीज की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुये अभी से पुख्ता प्रबंध किये जाये। (सांकेतिक चित्र नेट सहायता से)

तत्काल ताजा खबरों के लिए हमें फॉलो या Allow करें अथवा लाल घंटी बजाकर Subscribe करें. / यह न्यूज कैसी लगी, नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय भी दें, आपका ईमेल शो नहीं किया जावेगा.

loading...
News Reporter
इस वेबसाइट के लगभग सभी आलेख व खबरें Dailyhunt, Google News, NewsDog, NewsPoint एवं UC News पर भी उपलब्ध हैं. ज्यादातर चित्र सांकेतिक रहते हैं तथा इंटरनेट के उपयोग किए जाते हैं, इसलिए किसी कॉपीराइट का दावा नहीं है. सम्पर्क: Mob : 91-9993069079 WhatsApp : 91-7974827087 E-Mail : rapaznewsco@gmail.com

1 thought on “बदल रहा है चम्बल में नारी स्वरुप

Comments are closed.

loading...
loading...
Join Group