मालेगांव ब्लास्ट: प्रज्ञा ठाकुर समेत तीन आरोपियों को मिली कोर्ट से राहत

मुम्बई . साल 2008 के मालेगांव विस्फोट मामले के तीन प्रमुख आरोपियों प्रज्ञा सिंह ठाकुर, लेफ्टिनेंट कर्नल प्रसाद पुरोहित और सुधाकर चतुर्वेदी को इस मामले की सुनवाई कर रही एक विशेष अदालत ने अपने समक्ष पेशी से छूट दे दी है। विशेष एनआईए अदालत ने जब सोमवार को मामले की सुनवाई शुरू की, तभी तीनों आरोपियों क् वकीलों ने अपने पक्षकारों के लिए पेशी के लिए छूट मांगी।

मालूम हो कि, इस मामले के दो आरोपी प्रज्ञा व सुधाकर लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं, दोनों भाजपा के प्रत्याशी हैं।

भोपाल लोकसभा सीट से बीजेपी की उम्मीदवार बनी प्रज्ञा ठाकुर ने अपनी याचिका में कहा है कि उम्मीदवार के तौर पर उन्हें निर्वाचन आयोग की कुछ प्रक्रियाएं पूरी करनी होंगी, जिसमें 23 मई को उनके निर्वाचन क्षेत्र में मतगणना के लिए अपना एजेंट नामित करना भी शामिल है।

इसी तरह सुधाकर ने भी कहा कि वे लोकसभा चुनाव के आगामी परिणाम की तैयारियों में व्यस्त हैं। जबकि तीसरे आरोपी कर्नल पुरोहित ने निजी मुश्किलों का हवाला दिया। अदालत ने उनकी याचिकाएं मंजूर कर, मांगी गई राहत प्रदान कर दी।

इसके साथ ही विशेष अदालत ने मालेगांव में हुए विस्फोट स्थल पर जाने के लिए आरोपियों के वकीलों द्वारा याचिका को भी अनुमति दे दी। जानकारी के मुताबिक इससे पहले, मामले में सात आरोपियों के खिलाफ केस की सुनवाई कर रही विशेष एनआईए अदालत ने पिछले हफ्ते सभी आरोपियों को सप्ताह में एक बार अपने समक्ष पेश होने का निर्देश दिया था। अदालत ने यह भी निर्देश दिया था कि ठोस कारणों के बिना मांगी गई छूट का अनुरोध खारिज कर दिया जाएगा।

मित्रों, वाट्सएप पर खबरें खबरें पढ़ने के लिए स्क्रीन पर दिख रहे वाट्सएप के निशान पर क्लिक करें. अगर तत्काल ताजा खबरें चाहें तो फॉलो करें या लाल घंटी बजाकर Subscribe करें. आप हमारा नम्बर 9993069079 अपने वाट्सएप ग्रुप में भी जोड़ सकते हैं. नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय भी दे सकते हैं, आपका नाम, नम्बर, ईमेल शो नहीं किया जावेगा. यह सब बिलकुल मुफ्त है.

loading...