तुम्हारे घरों में गुंडे घुसा दूंगी और कुत्तों की मौत मारूंगी- चुनाव मैदान में महिला IPS की धमकी

कोलकाता. पश्चिम बंगाल की घाटल लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में उतरी भारती घोष के एक बयान के बाद विवाद पैदा हो गया है. दरअसल, इस बयान में भारती ने तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को साफ-साफ धमकी दी है कि अगर उन्होंने ज्यादा होशियारी दिखाई तो वह उत्तर प्रदेश से लोगों को बुलाएंगी और उन्हें ‘कुत्ते की मौत मारेंगी.’

बता दें कि, भारती घोष पूर्व आईपीएस अधिकारी हैं और कभी तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख व पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की करीबी मानी जाती थीं. लेकिन अब वह बीजेपी उम्मीदवार के रूप में घाटल लोकसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में हैं, जहां चुनाव प्रचार के दौरान उन्होंने ममता बनर्जी की पार्टी के कार्यकर्ताओं को ही यह कथित धमकी दी है.

मीडिया में आ रही खबरों के अनुसार इससे कुछ देर पहले ही तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने उन्हें शालीनता की हदें पार नहीं करने की चेतावनी भी दी थी. कहा जा सकता है कि, वह इसके पहले भी इसी तरह की टिप्पणी कर चुकी होंगी.

खबर है कि, भाजपा प्रत्याशी बनी महिला आईपीएस भारती घोष ने प्रचार अभियान के दौरान तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से कहा- ‘‘अपने घरों में चले जाओ और यहां अपनी होशियारी दिखाने की कोशिश न करो, वरना छुपने की कोई जगह नहीं होगी. मैं तुम्हें, तुम्हारे घरों से निकालकर कुत्ते की मौत मारूंगी. मैं उत्तर प्रदेश से एक हजार गुंडों को लाऊंगी और उन्हें तुम्हारे घरों में छोड़ दूंगी, फिर तुम्हें सबक सिखाउंगी.’’

फरार भी रही हैं भारती घोष:
भारती घोष का नाम पहली बार तब सुर्खियों में आया था जब बीते फरबरी की पहली तारीख को चंदन माझी नाम के एक रेस्तरां मालिक ने भारती के खिलाफ अवैध वसूली और धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई थी.

अदालत के आदेश पर इसके दूसरे ही दिन सीआईडी को तलाशी के दौरान भारती के निवास से करीब 300 करोड़ की जमीन की अवैध खरीद फरोख्त के दस्तीवेज तथा करोड़ों रुपए बरामद हुए.

लेकिन तब तक भारती गायब हो चुकी थीं. सीआईडी ने पूरे देश में सरगर्मी के साथ मोस्ट वांटेड अपराधी की तरह उनकी खोज की. वह कब सामने आई, जमानत मिली या केस ही खत्म हो गया. यह जानकारी तो न मिल सकी. सीधे यही सामने आया कि, ममता बनर्जी का साथ छोड़ वह भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं.

बता दें हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से मैंनेजमेंट की डिग्री लेने वाली भारती आईपीएस बनने से पहले दस साल तर संयुक्त राष्ट्र के शांति मिशन में भी रही थीं.

दोस्तों, रापाज न्यूज की सभी नई खबरें पाने के लिए ऊपर फॉलो का बटन दवाऐं या नीचे लाल घंटी बजाकर Subscribe करें अथवा ALLOW पर दो बार क्लिक करें. वाट्सएप पर खबरें पढ़ने के लिए हमारा नम्बर 9993069079 अपने मोबाइल में सेव करके Hi या Hello करें. इसे अपने वाट्सएप ग्रुप में भी जोड़ सकते हैं. यह सब बिलकुल मुफ्त है. धन्यवाद.

News Reporter
loading...
loading...
Join Group