आपकी सोयी किस्मत जगा सकती है ये अंगूठी, जानें इसे पहनने का नियम

वास्तु शास्त्र के अनुसार बहुत सी ऐसी बातें है जो कहीं ना कहीं हमारे ज़िन्दगी में बहुत ही महत्व रखती है। हमारे जिंदगी में इसका बहुत ही प्रभाव पड़ता है। आज हम बात करेंगे कछुए की आकृति की अंगुठियों की जो बेहद ही शुभ माना जाता है। वैसे तो गुडलक के लिए लोग कछुआ को घर में रखते है। कहा जाता है घर में कछुआ रखने से सारी नकारात्मक शक्तियां आपके घर से दूर हो जाती हैं। लेकिन आजकल लोग कछुए की बनी अंगूठी बहुत पहन रहे है। अगर आप भी अपने दुर्भाग्य को भाग्य में बदलना चाहते है तो कछुए की अंगूठी धारण करने से पहले जान ले बातें।

1. कछुआ रखने से वास्तु दोष भी समाप्त हो जाता है। यह धन में बरकत दिलाने का भी एक अच्छा स्रोत माना जाता है। कछुए की आकृति को रखने के लिए घर की उत्तर दिशा सबसे शुभ मानी जाती है। लेकिन सभी नहीं, कुछ कछुओं की ऐसी धातुएं होती हैं जिन्हें घर में रखने से अत्याधिक लाभ होता है।

2 . पीठ पर कछुए का बच्चा: एक ऐसा कछुआ जिसकी पीठ पर एक कछुए का बच्चा हो। उसे घर में रखने से संतान प्राप्ति में विशेष कारगर माना जाता है।

3. कछुए की अंगूठी का असर इतना माना जाता है कि यह दुर्भाग्य को भाग्य में बदल देने की ताकत रखती है। लेकिन इसे पहनने के लिए कुछ नियमों का पालन करना भी बेहद जरूरी है। हाथ में पहनी जाने वाली कछुए की अंगूठी ऐसी होनी चाहिए जिसमें कि कछुए का सिरा आपकी तरफ हो। ध्यान रहे कि कछुए का मुख बाहर की ओर न हो वरना इसका नकारात्मक असर हो सकता है।

4. कछुए की अंगूठी सीधे हाथ की मध्यमा यानि बीच की अंगुली में पहनें। इसे धारण करने का सबसे शुभ दिन शुक्रवार माना गया है क्योंकि यह समृद्धि का भी प्रतीक है।u

दोस्तों, यह आर्टीकल आपको कैसा लगा, कृपया नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर बताऐं. अगर आप ऐसी ही खबरें तत्काल पाना चाहें तो कृपया ऊपर फॉलो का बटन दवाऐं या नीचे लाल घंटी बजाऐं. अपने वाट्सएप पर खबरें पढ़ने के लिए हमारे नम्बर 9993069079 पर Hi / Hello या Miscall करें. यह नम्बर आप अपने वाट्सएप ग्रुप में भी जोड़ सकते हैं. धन्यवाद.

loading...