फिल्मों में काम दिलाने के नाम पर विवाहिता से दुष्कर्म मामले में आरोपी की जमानत

इंदौर. फिल्मों में काम दिलाने के नाम पर एक विवाहित महिला से दुुष्कर्म के चर्चित मामले में गत दिवस माननीय न्यायालय ने आरोपी के वकील के तर्कों से सहमति जताते हुए जमानत मंजूर कर ली। मालूम हो कि पिछले दिनों एक महिला ने एमजी रोड पुलिस थाने में शहर के चर्चित व्यवसायी सुनील जैन के खिलाफ दुष्कर्म का प्रकरण दर्ज करवाया था।

अपने आरोप में कथित पीड़िता ने बताया था कि आरोपी सुनील जैन ने उसे फिल्मो में काम दिलाने एवं काम न मिलने पर उससे शादी करने का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया है। लेकिन जब सुनील जैन न तो उसे फिल्मों में काम दिला पाया और न शादी की बल्कि, शादी करने से भी इंकार भी कर दिया।

युवती की रिपोर्ट पर एमजी रोड पुलिस ने दुष्कर्म सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया था, लेकिन सुनील फरार हो गया। आरोपी इंदौर विधानसभा एक से विधायक संजय शुक्ला का खास साथी है, इस वजह से पीड़िता व उसके परिवार को डरा धमका रहा है, उस समय ऐसा भी आरोप लगा था। फरारी के चलते आरोपी पर पांच हजार का इनाम भी घोषित था। बाद में एमजी रोड पुलिस ने ही आरोपी सुनील को पकड़कर न्यायालय में पेश किया था, जहाँ से उसे न्यायिक निरोध में भेज दिया गया था।

इस मामले में अजीब बात यह कि, आरोपी सुनील जैन ही नहीं बल्कि खुद को पीड़ित बताने वाली महिला भी शादीशुदा है। यही नहीं दोनों के बच्चे भी हैं। आरोपी की ओर से एडवोकेट सौरभ मिश्रा ने सत्र न्यायालय में जमानत याचिका पेश की। उन्होंने न्यायालय को बताया कि, फरियादिया के पिता राजेश एवं आरोपी मित्र थे। आरोपी ने लाखों रुपये से राजेश की मदद की थी, लेकिन जब पैसे वापस मांगे गए तो षडयंत्रपूर्वक सुनील के विरुद्ध झूठी रिपोर्ट लिखा दी।

वकील ने यह भी तर्क दिया कि सुनील जैन ना तो फिल्म प्रोड्यूसर हैं, ना ही डायरेक्टर और ना ही फिल्म फाइनेंसर। तो वह फरियादिया या किसी भी महिला को हीरोईन बनाने का प्रलोभन क्यों देंगे और फरियादिया भी उन पर क्यों यकीन करेगी।

साथ ही कहा आरोपी और फरियादीया दोनों शादीशुदा होकर बाल- बच्चे वाले हैं, इसलिए शादी का प्रलोभन देना और फरियादिया का उस पर यकीन करना भी सम्भव नहीं है। वकील ने कुछ अन्य तर्क भी न्यायालय में प्रस्तुत किए, जिनसे सहमत होकर माननीय न्यायाधीश श्रीमती सविता सिंह ने जमानत आवेदन मंजूर कर लिया। गूगल इमेज

दोस्तों, रापाज न्यूज की सभी नई खबरें तत्काल पाने के लिए ऊपर फॉलो का बटन दवाऐं या नीचे लाल घंटी बजाकर Subscribe करें अथवा ALLOW पर दो बार क्लिक करें. वाट्सएप पर खबरें पढ़ने के लिए हमारा नम्बर 9993069079 अपने मोबाइल में सेव करके Hi / Hello या Miscall करें. इसे अपने वाट्सएप ग्रुप में भी जोड़ सकते हैं. यह सब बिलकुल मुफ्त है. धन्यवाद.