फिर खबरों में आई घर छोड़ने वाली विधायक पुत्री

मुंहबोले भाई (सगे भाई के दोस्त) अजितेश के साथ घर से भागकर प्रेमविवाह करने और परिजनों पर प्रताड़ना के आरोप लगाने वाली साक्षी मिश्रा का विवादों से पीछा नहीं छूट रहा है।

ताजा खबर के मुताबिक शादी के बाद पहली बार दीपावाली पर पति के घर पहुंची साक्षी ने अब पड़ोस की एक महिला पर मारपीट करने का आरोप लगाया है। उसने इस मामले में थाना इज्जतनगर में रिपोर्ट भी दर्ज करा दी, लेकिन बाद में समझौता भी कर लिया।

मालूम हो कि, यूपी के भाजपा विधायक की पुत्री साक्षी और अजितेश ने शादी के साथ ही शहर छोड़ दिया था, सुरक्षा को कारण बताते हुए दिल्ली में रह रहे थे।

दीपावाली से पहले दोनों ने लौटकर वीर सावरकर नगर में अजितेश के पैतृक घर में रहना शुरू किया है। साक्षी का आरोप है कि बरेली लौटने के बाद से पड़ोस की एक महिला उन्हें और उनके परिवार को बदनाम कर रही है। फेसबुक और व्हाट्सएप पर उसके बारे में गलत कमेंट करने के साथ कॉलोनी में भी विवादित बातें करती है।

उसने पहले महिला के पति से शिकायत की तो उन्होंने उसे समझाने को कहा लेकिन महिला फिर भी नहीं मानी।
साक्षी के मुताबिक शनिवार को उसके ससुर और कुछ संभ्रांत लोगों ने महिला को समझाने के लिए घर बुलाने को कहा तो वह उसे बुलाने उसके घर पहुंची। महिला उसे देखते ही गर्म हो गई। इस पर वह लौटने लगी तो उसने पीछे से आकर उसे धक्का देकर गिरा दिया और उनसे मारपीट कर गला दबाने की कोशिश की।

साक्षी ने तहरीर में कहा है कि मारपीट में उसे कई जगह खुली और गुम चोटें लगी हैं। अजितेश ने आकर उसे बचाया। सूचना दी तो इज्जतनगर पुलिस पहुंच गई। इसके बाद उसने तहरीर देकर एनसीआर दर्ज करा दी।

साक्षी और अजितेश को पुलिस सुरक्षा हासिल है। उनके घर पर दो गनर और चार पुलिसकर्मी हर वक्त मौजूद रहते हैं। शनिवार को जब यह घटना हुई तब भी सुरक्षाकर्मी मौजूद थे लेकिन महिलाओं की मारपीट का मामला था इसलिए उन्होंने दखलंदाजी नहीं की। इज्जतनगर पुलिस को सूचना जरूर दे दी।

साक्षा ने पुलिस पर भी इस मामले में जबरन समझौता कराने का आरोप लगाया है। साक्षी का कहना है कि महिला ने उनके साथ मारपीट कर गला दबाने की कोशिश की। उसके खिलाफ रिपोर्ट लिखकर कार्रवाई होनी चाहिए थी। पुलिस ने एनसीआर लिखी और फिर समझौता भी करा दिया। अब वह परिवारवालों से बात कर रही हैं, जरूरत पड़ी तो अधिकारियों से शिकायत करेंगे।

साक्षी और अजितेश ने अब बरेली में ही रहने का फैसला कर लिया है। अजितेश का कहना है कि उन्हें और साक्षी को पुराने मामले में किसी से कोई शिकायत नहीं है। वे किसी विवाद में नहीं पड़ना चाहते और नए सिरे से जीवन जीना चाहते हैं मगर कुछ लोग जानबूझकर उनकी शांतिभंग कर रहे हैं। ऐसे लोगों को वह भी सबक सिखा देंगे।

साक्षी और पड़ोस की महिला के बीच हुई घटना वीडियो कैमरे में भी कैद हो गई। जो फुटेज अखबारों को दी गई है उसमें साक्षी अपने घर से निकलकर पड़ोस के घर में जाती दिख रही है। अजितेश भी वहीं पास में टहलता दिख रहा है। बमुश्किल एक मिनट बाद ही आगे साक्षी और पीछे आरोपी महिला पड़ोस के घर से निकलती दिख रही हैं। महिला साक्षी को धक्का भी दे रही है। फुटेज सीसीटीवी के बजाय वीडियो कैमरे की है, लिहाजा यह पुष्टि भी हो रही है कि कोई इस घटनाक्रम की सुनियोजित ढंग से वीडियोग्राफी भी कर रहा था।

साक्षी का पड़ोस के घर में जाने का फैसला ही गलत था। फुटेज में महिला सिर्फ साक्षी को धक्का देकर घर से निकालती दिख रही है। फिर भी साक्षी की तहरीर पर उसके खिलाफ एनसीआर लिख ली थी। साक्षी और उनके पति ने खुद की कार्रवाई न करने की बात कहकर समझौता लिखकर दे दिया। इसमें पुलिस का क्या दोष है। -केके वर्मा, टीआई इज्जतनगर

Conract :: RapazNews  

◊वाट्सएप पर भेजी सूचना आप तक पहुंचना अब संभव नहीं, इसलिए देश – दुनियां की ऐसी ही खबरों / वीडियो से हमेशा अपडेट रहने के लिए कृपया यहां दिख रहा Allow या Follow का बटन दवाऐं अथवा लाल घंटी बजाऐं. धन्यवाद.   सम्पर्क: रापाज न्यूज

loading...
News Reporter
इस वेबसाइट व यू ट्यूब चैनल के लगभग सभी खबरें तथा वीडियो आदि Dailyhunt, Google News, NewsDog, NewsPoint एवं UC News पर भी उपलब्ध हैं इसमें ज्यादातर चित्र सांकेतिक रहते हैं तथा इंटरनेट व सोशल मीडिया से उपयोग किए जाते हैं, इसलिए हम किसी कॉपीराइट का दावा नहीं करते. सम्पर्क: Mobile / WhatsApp : 91-9993069079 E-Mail : rapaznewsco@gmail.com
loading...
loading...
Join Group