पत्नी गई करवा खरीदने और पति ने खुद को मारी गोली

पति की लंबी आयु के लिए पत्नी करवा चौथ वृत के लिए करवा खरीदने गई थी। घर में अकेले पति ने पत्नी के गम में खुद को गोली मार ली। कनपटी पर कट्टा लगी गोली से मौके पर ही उसकी मौत हो गई। यह घटना करवा चौथ यानि गुरुवार दोपहर 2 बजे के लगभग ग्वालियर के तिघरा रोड साडा बायपास की है।

घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने घटना स्थल को निगरानी में लेकर जांच शुरू की, एक सुसाइड नोट भी मिला। जिसमें मृतक ने किसी सुरेश-ममता को उसकी पत्नी से जुदा करने का आरोपी बताया है। साथ ही पत्नी की बहुत याद आने पर यह कदम उठाने की बात लिखी।

जानकारी के मुताबिक पुरानी छावनी थानाक्षेत्र के तिघरा रोड निवासी विजय (40) पुत्र गंगाराम कुशवाह मूलता गिरवाई का रहने वाला ऑटो चालक था। 18 साल पहले उसने लता निवासी पातरखेड़ा बैतूल के साथ प्रेम विवाह किया था। दोनों करीब 18 साल तक साथ रहे। लेकिन उनकी कोई संतान न हुई।

तब उन्होंने प्रदीप नाम के बच्चे को उन्होंने गोद ले लिया, जो अब 11 साल का है। अभी कुछ समय पहले लता ने विजय से अलग होने का फैसला किया। इसके लिए महिला थाने में आवेदन लगाया और विजय व प्रदीप को छोड़कर चली गई।

यह बात विजय को काफी खल रही थी। उसे लगता था कि खुद की संतान की चाहत में लता के किसी अन्य से संबंध बन गए थे।

इसके बाद विजय ने  1 अक्टूबर को शिवपुरी निवासी रमा कुशवाह से दूसरी शादी की। गुरुवार को करवाचौथ पर रमा ने पति विजय के लिए उपवास रखा था। दोपहर में वह बेटे प्रदीप के साथ बाजार खरीदारी करने चली गई।

पति की लंबी आयु के लिए सुबह से उसने पानी भी नहीं पीया था। जब वह बाजार में थी तभी विजय ने देशी कट्टा अपनी दायीं कनपटी पर लगाकर खुद को गोली मार ली। जब कुछ देर बाद पत्नी लौटी तो पति का लहूलुहान शव सोफे पर पड़ा था।

घटना स्थल पर मृतक की दूसरी पत्नी रमा ने जैसे ही शव देखा वह बेहोश हो गई। किसी तरह उसे चेतना में लाया गया। उसका कहना था कि जब छोड़कर जाना था तो 17 दिन पहले उससे रिश्ता क्यों जोड़ा था। वह समझ नहीं पा रही थी कि उसके साथ क्या हो गया है। बेटा बार-बार उसे समझा रहा था।

 

घटना स्थल से पुलिस को 8 लाइन का सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने किसी सुरेश और ममता का जिक्र करते हुए लिखा है कि इन दोनों के कारण मेरी लता मुझे छोड़कर गई। इनको कभी माफ नहीं करुंगा। आज करवाचौथ पर मुझे उसकी बहुत याद आ रही है।

जब पुलिस ने पता किया तो सुरेश के बारे में पता लगा कि विजय उसे मामा मानता था। उसे लगता था कि लता को उससे जुदा करने में इन दोनों का हाथ है। इसलिए वह उनका विरोध करता था। इसी विरोध पर तीन दिन पहले सुरेश ने घर आकर विजय की मारपीट की थी।

-सम्पर्क:  RapazNews

[] आपको यह खबर कैसी लगी, कृपया नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय बताऐं. [] देश – दुनियां की ऐसी ही खबरों / वीडियो से हमेशा अपडेट रहने के लिए कृपया यहां दिख रहा Allow या Follow का बटन दवाऐं अथवा लाल घंटी बजाऐं. धन्यवाद. सम्पर्क: रापाज न्यूज

 

loading...
News Reporter
इस वेबसाइट के लगभग सभी आलेख व खबरें Dailyhunt, Google News, NewsDog, NewsPoint एवं UC News पर भी उपलब्ध हैं. ज्यादातर चित्र सांकेतिक रहते हैं तथा इंटरनेट के उपयोग किए जाते हैं, इसलिए किसी कॉपीराइट का दावा नहीं है. सम्पर्क: Mob : 91-9993069079 WhatsApp : 91-7974827087 E-Mail : rapaznewsco@gmail.com
loading...
loading...
Join Group